अमरूद खाने के फायदे और आपके प्रश्नो के उत्तर Health Benefits of Guava Hindi

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अमरूद खाने के फायदे काफी सारे हैं पर यदि गलत तरह से इनका सेवन किया जाये तो नुकसान भी हो सकते हैं। आज हम मेरे घरेलु नुस्खे के इस लेख में अमरूद खाने के फायदे बता रहे हैं।

अमरूद कब नहीं खाना चाहिए Raat ko amrood khana chahiye ya nahi

अमरुद भरी और ठंडा होता है। रात में अमरुद नहीं खाना चाहिए। अमरुद में विटामिन सी सेब तथा नारंगी से अधिक पाया जाता है। इसमें विटामिन बी 1 तथा निकोटिन पाए जाते हैं। अमरुद में खनिज जैसे – कैल्शियम, लोहा, फास्फोरस, तथा मिनरल पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें –गिलोय के फायदे और सेवन विधि

इसी तरह और भी लोगों के प्रश्न होते है शायद आप के भी हों।

Q. अमरूद खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए?

Ans . खाना खा सकते हैं पर पानी नहीं पीना है।

Q. अमरूद खाने के बाद पानी पीना चाहिए या नहीं ?

Ans . नहीं।

Q . अमरूद में कौन सा विटामिन पाया जाता है ?

Ans. Vitamin B9

Q. अमरूद खाने से खांसी होती है ?

Ans . यदि शाम में अमरुद खाया जाये या अमरुद खा के पानी पी लिया जाये तो खासी हो सकती है।

अमरुद के गुण क्या हैं ? guava benefits in hindi

इसमें रेशा (fiber) होता है जो हमारे शरीर के लिए उपयोगी है। ये भोजन के पाचन के लिए काफी अच्छा है।

कच्चा अमरुद खाने से पेट में दर्द हो सकता है। मीठा तथा पका हुआ अमरुद खाने से पेचिश, अपच में लाभ होता है। अमरुद को जामफल भी कहा जाता है।

इसे भी पढ़ें –निम्बू की पतियों के फायदे | nimbu ki patti ke fayde

अमरुद की प्रकृति guava is good for health in hindi

ये न तो ज्यादा ठंडा होता है और न ही गर्म

अमरूद खाने के फायदे benefits of eating guava in hindi

अमरूद खाने के फायदे benefits of eating guava in hindi
अमरुद

नशा उतरने में उपयोगी होता है। अमरुद खाने से अफीम, गाँजा का नशा उतर जाता है।

सिगरेट, पान मसाला कड़ी खाने की लत छुड़ाने के लिए अमरुद के 3-3 पत्ते रोज़ाना दिन में 3 बार चबाकर रस चूस जाएँ और पत्तों का चुरा थूक दें। पान मसाला खाने की आदत से छुटकारा मिल जायेगा।

इसे भी पढ़ें –अगर आपको भी अपनी इम्युनिटी बढ़ानी है तो इन्हे अपने डाइट में शामिल ज़रूर करें | Boost Your Immunity

स्वस्थ संतान की प्राप्ति pregnancy me amrud khane ke fayde

अमरुद एक पौष्टिक भोजन है। गर्भावस्था में नियमित रूप से अमरुद खाएं। होनेवाले बच्चे के स्वास्थ के लिए अत्यंत लाभदायक है।

अमरुद से हड्डिया होंगी मज़बूत which fruit is best for bones in hindi

कैल्शियम की भरपूर मात्रा अमरुद में होती है। नियमित रूप से अमरुद खाते रहने से हड्डियां मज़बूत बनती हैं। अमरूद खाने के फायदे आपकी हड्डियों के स्वास्थ को भी अच्छा करती है।

हर्नियां का बेहतर इलाज है अमरुद के पत्ते guava leaves benefits in hindi

यूकोलिप्टस के 5 पत्ते, जामुन के 5 पत्ते, अमरुद के 5 पत्ते और आम के 5 पत्ते इनको धो कर 1 लीटर पानी में टुकड़े करके उबाल लें। उबलते हुए 250 ग्राम पानी बचने पर इसे छान कर ठंडा कर लें। रोज़ एक बार पियें। दो सप्ताह प्रयोग कर के देखें हर्निया में लाभ होगा।

इसे भी पढ़ें –मुल्तानी मिट्टी के 5 फायदे | जानिए त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के जबरदस्त फायदें

उन्माद का अमरुद से इलाज guava benefits and side effects in hindi

इलाहाबादी मीठे अमरुद 1 पाव सुबह और इतने ही शाम नित्य 6 सप्ताह खाएं। इसके साथ निम्बू कालीमिर्च नमक अमरुद पर डाल सकते हैं। इससे मस्तिष्क की मांसपेशियों को शक्ति मिलेगी। शरीर की गर्मी निकल जाएगी। उन्माद दूर होगा। अमरुद खाने से मानसिक चिंताएं भी दूर होती हैं।

दो अमरुद पानी से भरे भगोने में रात को डाल के रख दें और इन्हे प्रातः खाली पेट खाएं इससे उन्माद, मस्तिष्क की गर्मी ठीक हो जाएगी। अमरुद खाने से मस्तिष्क के स्नायुओ को भरपूर शक्ति मिलती है। ये मस्तिष्क को शांत रखता है। नित्य अमरुद खाने से मस्तिष्क का संतुलन ठीक रहता है।

रक्त विकार को दूर करने में लाभदायक है अमरुद benefits of guava for blood in hindi

दाद, खाज, फोड़े-फुंसी या रक्त विकार हो गया हो या खुजली हो तो ऐसे में रोज़ाना 4 सप्ताह तक दोपहर में 1 पाँव अमरुद खाएं। इससे पेट साफ़ होगा। बढ़ी हुई गर्मी दूर होगी। रक्त साफ़ होगा और फोड़े फुंसी, खुजली दूर हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें –daalchini ke fayede | दालचीनी और शहद का दमदार नुस्खा

पुराने दस्त का शर्तिया इलाज है अमरुद की पत्तियां benefits of guava leaves for loose motion in hindi

अमरुद की 20 कोमल पत्तियां टुकड़े करके एक गिलास पानी में उबाल लें। इसे छानकर पीने से पुराने दस्त ठीक हो जाते हैं।

दस्त में ऑव आती हो या आँतों में सूजन आ जाये या घाव हो जाये तो २-३ महीने लगातार 250 ग्राम अमरुद कहते रहने से दस्त ठीक हो जाते हैं। अमरुद में तनिक अम्ल होता है। इस अम्ल का मुख्य कार होता है घाव भरना। इससे आँतों के घाव भर कर आंतें ठीक हो जाती हैं।

इसे भी पढ़ें- अमरुद की पत्तियों के बारे में वो सारी बातें जो आपको जरूर जानी चाहिए

पतले दस्त का घरेलु नुस्खा है पके हुए अमरुद khali pet amrud khane ke fayde

पके हुए 2 अमरुद और मिश्री रोज़ 3 बार खाने से पतले दस्त बंद हो जाते हैं।

पेट दर्द में रामबाण घरेलु नुस्खा है अमरुद की पत्तियां amrood ke patte ke fayde

पेट दर्द की समस्या होने पर अमरुद की मुलायम पत्तियां पीसकर पानी में मिला कर पीने से आराम मिलता है। अपच, अग्निमांध, और आफरा के लिए अमरुद उत्तम औषधि है। इन रोग वालों को 250 ग्राम अमरुद खाने के बाद खाना चाहिए अन्य लोगों को खाने के पहले खाना लाभदायक है।

इसे भी पढ़ें –निम्बू की पतियों के फायदे | nimbu ki patti ke fayde

खांसी और कफ में अमरूद खाने के फायदे khansi mein amrood ke fayde

यदि कफ युक्त खांसी हो तो अमरुद को आग में भून कर खाना चाहिए। यदि सूखी खांसी हो तो इसमें पके हुए अमरुद चबा-चबा कर खाने से लाभ होता है।

अमरुद के 10 तजा तोड़े हुए कोमल पत्तों के टुकड़े करके 1 गिलास पानी में चाय की तरह उबाल कर, छान कर दूध, शक्कर डालकर रोज़ सुबह-शाम पीने पर लाभ होता है यदि कुकुर खांसी की समस्या हो तो एक अमरुद को गर्म रेत या रख में सेंक कर खाने से कुकुर खांसी में लाभ होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *