अमरूद के फायदे आपको जरूर पता होने चाहिए डॉक्टर भी नहीं बताएँगे

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अमरुद खाना किसी पसंद नहीं होता। अमरुद एक ऐसा फल है जो खाने में तो बहुत ही स्वादिष्ट लगता है। इसके हेल्थ बेनिफिट्स भी बहुत सारे हैं। तो आइये जानते हैं अमरूद के फायदे।

सर्दी जुकाम का पेटेंट घरेलु नुस्खा sardi mein amrud khane ke fayde

सर्दी जुकाम होने पर 1 अमरुद बिना बीज के खा कर पानी पे लें। दिन में ऐसा 3 बार करें। पानी पीते समय नाक से सांस न लें और न ही छोड़ें। नाक बंद करके पानी पियें और मुँह से सांस बहार छोड़े। इससे नाक बहने लगेगी। नाक बहना शुरू होते ही अमरुद खाना बंद कर दें। एक दो दिन में जुकाम खूब झड़ जाये तो सोते समय 50 ग्राम गुड़ खा कर बिना पानी पिए सिर्फ कुल्ला कर के सो जाएँ। जुकाम ठीक हो जायेगा।

एक अमरुद भूनकर काटकर नमक दाल कर खाने से जुकाम ठीक हो जाता है।

आँखों से पानी गिरना या अश्नुस्राव का घरेलु नुस्खा

दो अमरुद आग में भूनकर खाने से आँखों से पानी बहना बंद हो जाता है।

गठिया का रामबाण इलाज है अमरुद के पत्ते का ये नुस्खा

अमरुद के हरे पत्ते को पीसकर जहाँ जोड़ों पर गठिया बाय की सूजन हो वहां पर लेप करें। पानी में पत्ते उबालकर, बफर दें या धोएं।

इसे भी पढ़ें –मुल्तानी मिट्टी के 5 फायदे | जानिए त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के जबरदस्त फायदें

भांग का नशा उतारने का जबरदस्त घरेलु नुस्खा

अमरुद खाने से या इसके पत्ते का रस पीने से भांग का नशा उतर जाता है।

दांत दर्द में अमरूद के पत्ते के फायदे

अमरुद के पत्ते को चबाने से दांत का दर्द दूर होता है। मसूड़ों में दर्द, सूजन, दांतों में दर्द होने पर अमरुद के पत्ते को उबालकर कुल्ला करें।

दस्त कब्ज या पेचिश का घरेलु नुस्खा है अमरुद

दस्त, कब्ज या पेचिश हो तो 250 ग्राम अमरुद रोज़ खाएं। इससे मल पतला व सम आता है। सुखकर कठोर नहीं होता।

आँतों की सूजन या पेचिश का बेहतर इलाज है अमरुद

अमरुद के 7 पत्ते काटकर छोटे छोटे टुकड़े कर के दो कप पानी में आधा निम्बू निचोड़ कर उबालें। जब पानी आधा बचे तो छानकर स्वादानुसार चीनी मिलाकर सुबह शाम पियें लाभ होगा।

कब्ज का बेहतरीन घरेलु नुस्खा है अमरुद

अमरुद खाने से आँतों में तरावट आती है। कब्ज दूर होता है। इसे भोजन के पहले खाना चाहिए। अमरुद भोजन के बाद खाने से कब्ज करता है। जिसे कब्ज की समस्या हो उन्हें नाश्ते में अमरुद लेना चाहिए। पुरानी कब्ज के रोगियों को प्रातः और शाम को अमरुद खाना चाहिए दस्त साफ़ आएंगे। अजीर्ण और गैस दूर होगी। भूख ज्यादा लगेगी। अमरुद पर सेंधा नमक डालकर खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है।

अमरुद काटने के बाद उसपर सोंठ, कालीमिर्च और सेंधा नमक डाल कर खाएं। इससे पेट का अफरा, गैस और अपच दूर होती है। इसे सुबह खाली पेट खाना चाहिए या भोजन के साथ खाना चाहिए।

250 ग्राम अमरुद खाकर ऊपर से गर्म पानी पीने से कब्ज दूर होती है।

इसे भी पढ़ें –निम्बू की पतियों के फायदे | nimbu ki patti ke fayde

डायबिटीज में अमरूद के पत्ते खाने के फायदे

पतझड़ के दिनों में पीले हो कर गिरने वाले अमरुद के पत्ते धोकर चाय में सुखा कर कूट लें। इसे 2 चम्मच 1 गिलास पानी में ले कर उबालें। जब पानी उबल-उबल कर आधा रह जाये तो छानकर रोज़ाना 1 गिलास पियें। इससे मधुमेह में लाभ होता है।

शक्ति बढ़ाता है अमरुद

100 ग्राम अमरुद में 300-450 मिलीग्राम तक विटामिन सी होता है। ये ह्रदय को बल देता है स्फूर्ति और शक्ति देता है। मस्तिष्क को शक्ति देता है।

बवासीर दूर करने में उपयोगी अमरुद

बवासीर को दूर करने के लिए सुबह खाली पेट अमरुद खाना काफी लाभदायक होता है। कुछ दिनों तक प्रायः खाली पेट 250 ग्राम अमरुद खाने से पाईल्स ठीक हो जाती है।

इसे भी पढ़ें –अगर आपको भी अपनी इम्युनिटी बढ़ानी है तो इन्हे अपने डाइट में शामिल ज़रूर करें | Boost Your Immunity

मलेरिया में अमरूद के फायदे

मलेरिया में लाभदायक है अमरुद। मलेरिया रोगी को 3-4 दिन खिलाएं काफी लाभ मिलेगा।

पेट दर्द की समस्या में अमरुद पर नमक दाल कर खाने से लाभ मिलता है।

सूर्यावर्त सिरदर्द में लाभदायक अमरुद

ऐसा सिरदर्द जो सूर्योदय के समय आरम्भ हो और सूर्यास्त के साथ बंद जाये, उसमे सूरज उगने से पहले एक पका हुआ अमरुद नित्य खाएं काफी लाभ होगा।

इसे भी पढ़ें –zero Calorie वाले ये फ़ूड करते हैं वेट लॉस में मदद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *